Featured

ओपिनियन: नागरिक होने के नाते सड़क पर उतरना जरूरी है, जो लोग ऐसा कर रहे वही देशभक्त

पुलिस ने कहा है कि हर्ष मंदर (Harsh Mander) ने सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के ख़िलाफ़ आपत्तिजनक टिप्पणी कर कोर्ट की अवमानना की है जिसके लिए मंदर के ख़िलाफ़ सुप्रीम कोर्ट की अवमानना (Contempt) की कार्रवाई हो. लेकिन अपना वजूद खोती संस्थाओं की ओर से उनपर ऐसी कार्रवाई क्या वाकई वाजिब है?

संपादकीय: अपनी इज्जत अपने हाथ, न्यायपालिका को अब सुधारों की दिशा में सोचना चाहिये

सुप्रीम कोर्ट के जजों द्वारा की गयी प्रेस कॉन्फ्रेंस ऐतिहासिक और अप्रत्याशित थी. हालांकि इसमें ऐसा कोई खुलासा नहीं हुआ, जिसके लिए अमूमन प्रेस कॉन्फ्रेंस की जाती है. खुलासे की सम्भावना लिए पत्रकार जजों को अपने सवालों से उकसाते रहे लेकिन जज आपनी न्यायिक प्रतिबद्धता को निभाते हुये टस से मस नहीं हुए. प्रेस कॉन्फ्रेंस […]

ज़ी न्यूज़ के साथ बात में पीएम ने छोड़ा पूरे देश में एक साथ चुनाव का शिगूफा, यह फर्जी क्यों साबित होगा?

ग्रीक पौराणिक कथाओं का एक किरदार है सिसिफस. जिसका भारत में एक साथ चुनाव कराने से क्या संबंध है वो आपको लेख के आखिरी में पता चलेगा. सबसे पहले समझिये कि दरअसल मामला क्या है? चूंकि भाषणों से पैदा हुए अधिकांश सवालों के जवाब तार्किक दुनिया की परिधि पर आने से पहले ही समाप्त हो […]