Feature Photo

संपादकीय: कासगंज के ‘हिंदू’ लड़के को किसने मारा?

कासगंज (Kasganj) में कल एक लड़के की जान चली गई. एक सांप्रदायिक (Communal) बताए जा रहे हंगामे के दौरान पथराव हुआ, गोलियां चलीं, आगजनी हुई और इसी सब के बीच एक चन्दन गुप्ता (Chandan Gupta) मर गया. यह सब उस दिन हुआ, जब हम विधिसम्मत व्यवस्था में शामिल होने की तारीख का जश्न मना रहे […]

संपादकीय: सवा दो करोड़ देशवासी नहीं रहे फिर भी हम मुर्दा शांति से क्यों भरे हैं?

हम असम को नहीं जानते. बस मानचित्रों, किताब के कुछ पन्नों और अख़बार की सुर्ख़ियों से असम का हल्का-फुल्का परिचय हासिल किया है. यह परिचय भी केवल नाम और राजधानी छोड़कर यादों के कोने में बहुत देर नहीं टिकता. लेकिन भारतीयता का एक जुड़ाव है, जो बिना जाने, सोचे-समझे असम से एक लगाव के रूप […]

‘रे की राय’: आइये, आपको नरक की यात्रा पर ले चलता हूं

प्रकाश के रे वरिष्ठ पत्रकार हैं. भारत मे अंतराष्ट्रीय मसलों के चुनिंदा जानकर लोगों में से एक हैं. विश्व राजनीति के साथ-साथ मीडिया, साहित्य और सिनेमा पर भी आप गहरी समझ रखते हैं. _________________________________________________________________________ अक्सर हम रोज़मर्रा के जीवन में ‘गो टू हेल’, ‘जहन्नुम में जाओ’, ‘टू हेल विद’, ‘नरक में जाओगे’, ‘दोज़ख़ की आग […]

छोटा पाकिस्तान: दंगों के दंश में डूबा एक शहर

‘कठफोड़वा’ से हमारे साथी विनय आज इस रिपोर्ट के साथ जुड़ रहे हैं. विनय हमारे संस्थापक सदस्यों में से हैं और आज तक कठफोड़वा को प्रोत्साहन और नैतिक बल देते थे. विनय सामाजिक बदलावों के लिये जमकर मेहनत करते हैं पर उन्हें एक्टिविस्ट वाली बाइनरी से विशेष प्रेम नहीं, न ही पत्रकार वाली बाइनरी से. […]