ओपिनियन: नागरिक होने के नाते सड़क पर उतरना जरूरी है, जो लोग ऐसा कर रहे वही देशभक्त

दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने हर्ष मंदर (Harsh Mander) के ख़िलाफ़ सुप्रीम कोर्ट में हलफ़नामा दायर कर उन पर सुप्रीम कोर्ट की अवमानना का आरोप लगाया है. पुलिस ने कहा कि जामिया में सीएए (CAA) के ख़िलाफ़ प्रदर्शन के दौरान मंदर ने लोगों को हिंसा के लिए उकसाया.

पुलिस ने कहा है कि हर्ष मंदर (Harsh Mander) ने सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के ख़िलाफ़ आपत्तिजनक टिप्पणी कर कोर्ट की अवमानना की है जिसके लिए मंदर के ख़िलाफ़ सुप्रीम कोर्ट की अवमानना (Contempt) की कार्रवाई हो. लेकिन अपना वजूद खोती संस्थाओं की ओर से उनपर ऐसी कार्रवाई क्या वाकई वाजिब है?

राजनीतिक दलों के नैतिक भ्रष्टाचार ने हमें यहां पहुंचाया
दरअसल हर्ष मंदर (Harsh Mander) जो बात कह रहे हैं, उससे वे लोगों को भड़का नहीं रहे बल्कि इस समय की सबसे बड़ी सच्चाई बता रहे हैं. अपनी आराम कुर्सियों और बंगलों से उतरकर इन बातों को बहुत ध्यान से समझने की कोशिश कीजिए. हिन्दुस्तान का पूरा सिस्टम बरबाद हो चुका है. पुलिस से लेकर नौकरशाही (Bureaucracy) तक और मीडिया से लेकर आम कर्मचारी तक सब के सब सड़ चुके हैं.

लेकिन इस प्रक्रिया की शुरुआत राजनीतिक दलों से हुई है. राजनीतिक दलों के भ्रष्टाचार से हुई है. आसान भाषा में ऐसे समझिए कि अगर बेताहशा पैसा खर्च कर, मीडिया मैनेज कर और प्रशांत किशोर (Prashant Kishor) जैसों के मैनजमेंट पर अरबों रुपए खर्च करके चुनाव जीता जा रहा है तो वह चुनाव नहीं हो रहा है बल्कि आपके आंखों के सामने धांधली हो रही है. और आपका पता भी नहीं चल रहा है. और आप ताली पीट रहे है.

लिख कर ले लीजिए कि भारत की आत्मा को बचाने की कुव्वत आज किसी भी राजनीतिक दल में नहीं है.

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने लगातार गिराई है अपनी साख
ऐसे में न्याय की उम्मीद सुप्रीम कोर्ट से की जाती है. लेकिन जब सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) को भी भारत के भ्रष्ट रवैए ने अपने कब्जे में ले लिया हो. और कोर्ट की ओर से बेहद जरूरी मुद्दों पर जबरदस्त टालमटोल वाला रवैया देखा जा रहा हो. तब क्या ही आशा रह जाती है?

ऐसे में एक नागरिक होने के नाते सड़क पर उतरना जरूरी है, जो लोग ऐसा कर रहे हैं, वही देशभक्त हैं, और जो इसका विरोध मूर्ख हैं धूर्त हैं या देशद्रोही हैं.

_____________________________________________________________________

यह लेख आप कठफोड़वा.कॉम पर पढ़ रहे थे. आगे भी हमारे लेख और वीडियोज़ पाते रहने के लिये हमें फेसबुक और ट्विटर पर लाइक करें और यूट्यूब पर सब्सक्राइब करें-

फेसबुक

ट्विटर

यूट्यूब

Post Author: Ajay Kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *